अमर सिंह का सिंगापुर में उपचार के दौरान शनिवार को निधन हो गया

सिंगापुर से राज्य सभा सांसद अमर सिंह का आज पार्थिव शरीर दिल्ली लाया Bगया है। यहां से उनके पार्थिव शरीर को गृह निवास छतरपुर लाया गया है। सोमवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। प्रगतिवादी समाजवादी पार्टी (लोहिया) के नेता शिवपाल सिंह यादव और अन्य लोगों ने उन्हें अंतिम सम्मान दिया।

बता दें कि 64 साल के अमर सिंह का सिंगापुर में उपचार के दौरान शनिवार को निधन हो गया था। वह लंबे से सिंगापुर में इलाज करा रहे थे। वह किडनी संबंधी बीमारियों से जूझ रहे थे। कद्दावर नेता अमर सिंह ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत वर्ष 1996 से की थी। उस समय वो राज्यसभा के सदस्य के तौर पर चुने गए थे।

सूत्रों के मुताबिक, अमर सिंह मुलायम सिंह यादव के काफी करीब थे। इसके अलावा उनका रिश्ता बच्चन परिवार के साथ भी काफी गहरा था। अमर सिंह का था बोलबाला राजनीति में ये कहा जाता था कि अमर सिंह कोई भी काम आसानी से कर सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, 2008 में उन्होंने मनमोहन सरकार को भी गिरने से बचाया था।

लेकिन फिर वक्त ने ऐसी करवट ली कि मुलायम सिंह यादव ने ही उनके खिलाफ कार्रवाई कर दी और उन्हें 2010 में पार्टी को अलविदा कहना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here