मुंबई। मुंबई और इसके आसपास के जिलों में लगातार तीसरे दिन रविवार को भी मूसलाधार बारिश जारी रही, जिसकी वजह से शहर के निचले इलाकों में जलजमाव हो गया है। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बताया कि मूसलाधार वर्षा के कारण पूरी तरह से भर गई है और उससे पानी बाहर बह रहा है।
मुंबई पुलिस ने लोगों से समुद्र तट और जलभराव वाले क्षेत्रों से दूर रहने की अपील की है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मुंबई और आसपास के इलाकों में अगले 24 घंटे तक अभी मूसलाधार वर्षा जारी रहने का अनुमान लगाया है। उसने महाराष्ट्र-गोवा तट पर मछुआरों से समुद्र में नहीं जाने को कहा है।
मुंबई के चेंबूर, वडाला, धारावी, अंधेरी, हिंदमाता जंक्शन, खार सबवे, मिलन सबवे और दहिसार सबवे में जलजमाव की सूचना है। दक्षिण मुंबई की कोलाबा वेधशाला ने शनिवार सुबह 8.30 बजे समाप्त हुए 24 घंटे के दौरान 129.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की, जबकि सांताक्रूज़ मौसम केंद्र ने इसी अवधि में 200.8 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की।
मुंबई पुलिस ने ट्वीट किया, ‘भारी बारिश के कारण शहर के अनेक स्थानों पर जलजमाव हो गया है। हम मुंबईवासियों से आधिकारिक सूत्रों के जरिए सही स्थिति जानने और उसी के अनुसार बाहर निकलने की योजना बनाने का अनुरोध करते हैं।’ बीएमसी ने कहा कि उपनगरीय मुंबई में पवई झील रविवार सुबह 6 बजे से ओवरफ्लो हो रही है।
इस झील की क्षमता 545 करोड़ लीटर जल की है और इसके पानी का इस्तेमाल औद्योगिक कामों में किया जाता है। यह झील मीठी नदी में जा कर मिल जाती है। मुंबई के अलावा ठाणे, पालघर और रायगढ़ जिले में भी पिछले तीन दिन से भारी बारिश हो रही है।
आईएमडी ने कहा है कि राज्य के कई हिस्सों में अगले दो दिन तक भारी बारिश जारी रहेगी और सोमवार और मंगलवार को महाराष्ट्र-गोवा तट पर 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का अनुमान है।
मुंबई, ठाणे, पालघर, रायगड के साथ ही कोंकण महाराष्ट्र के रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग में अगले दो दिन में भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है। आईएमडी ने कहा गया है कि पुणे, नासिक, धुले, जलगांव, नंदुरबार, सातारा, कोल्हापुर, परभणी, नांदेड़ और हिंगोली में भी भारी बारिश होने का अनुमान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here