मागासवर्गीय होने के चलते बोरीवली के डॉक्टर अविनाश सांखे पर अन्याय

मागासवर्गीय होने के चलते बोरीवली के डॉक्टर अविनाश सांखे पर अन्याय

बोरीवली के सरकारी अस्पताल Kranti Jyoti Savitribai Phule Hospital के मुख्य संचालक डॉक्टर अविनाश सांखे को पिछड़ीजाति होने के चलते झूठे चौकशी का सहारा लेकर अन्याय किया जा रहा है.

गौरतलब है की कोविद १९ के महामारी के चलते जब अस्पताल में पांच से अधिक संख्या से जमावबन्दी लागु है इसपर डॉक्टर संख्ये ने पुलिस बुलाकर करवाई करवाई थी इसी मुद्दे पर डॉ सांखे पर महीने से जबरन अवकाश लेकर घर पर बैठने की सजा सुनाई है और कहा है की जबतक चौकशी नहीं होती और जबतक चौकशी नहीं होती एक Kranti Jyoti Savitribai Phule Hospital को एक सह संचालक को पदभार देकर डॉ सांखे पर अन्याय किया जा रहा है.
डॉ अविनाश सांखे का आरोप है की ” मेरे खिलाफ अगर आपको कोई करवाई करनी है तो जरूर करे, पर घर पर न बिठाये।

इस महीने के अंत तक मै रिटायर हो सकता हु और मेरा दो साल एक्सटेंशन होने की संभावना है. और यह सब देरी मेरे सेवा एक्सटेंशन को रोकने के लिए किया जा रहा है”. उन्होंने आगे कहा.

गौरतलब है की क्या यह नेक्सेस पूरा सरकारी अस्पतालों में फैला हुआ है. इसकी जांच होनी जरुरी है, ऐसा डॉ अविनाश सांखे मानना है। पुरे अस्पताल Kranti Jyoti Savitribai Phule Hospital में डॉ अविनाश संख्ये के प्रतिमा ऐसे में भ्रष्टाचार से परहेज करनेवाला डॉक्टर की है. डॉ सांखे को हटाने की है साजिश तो नहीं है। ऐसा प्रतीत होता है
क्यों की Kranti Jyoti Savitribai Phule Hospital की New अस्पताल की बिल्डिंग सब तैयार हो गई है. और करोडो की मशीन सामग्री मंगवाई जा सकती है और एक ईमानदार डॉ. के हात अगर कमान सोपि जाती है तो भ्रष्टाचार करनेवाली तथाकथित सीनियर टीम को सफलता नहीं मिल सकती। जिसके चलते भी डॉ संख्ये को हटाने की साजिश की बू आ रही है. स्वस्थ विभाग बृह मुंबई पालिका को इसका सज्ञान लेने की जरुरत है. वर्ना पिछड़ी मागासवर्गीय और एक ईमानदार डॉ अविनाश संख्ये जैसे कर्त्तव्य दक्ष डॉक्टर की सेवा से जनता के दरबार में जाने के आलावा कोई रास्ता नहीं रह जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here