सुशांत सिंह राजपूत के घर पर 13 जून को कोई पार्टी नहीं हुई थी। 

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में बिहार पुलिस द्वारा की जा रही जांच का नेतृत्व करने के लिए मुंबई पहुंचे पटना के पुलिस अधीक्षक विनय तिवारी को बीएमसी ने पृथक-वास में भेज दिया है। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अधिकारियों ने तिवारी के हाथ पर पृथक-वास की मुहर भी लगा दी है जिससे संकेत मिलता है कि वह 15 अगस्त तक पृथक रहेंगे। वहीं, सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा रिया और उनके परिवार पर चोरी, धोखाधड़ी, साजिश रचने, शोषण करने और सुशांत को परिवार से दूर रखने का आरोप लगाए जाने के बाद से रिया चक्रवर्ती लोगों की नजरों से गायब हैं। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पटना में एफआईआर दर्ज होने के कुछ दिन बाद ही रिया ने परिवार समेत आधी रात को अपना घर छोड़ दिया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि रिया जिस इमारत में रहती थीं वहां अब ताला लगा है। इसी बीच मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत के घर पर 13 जून को कोई पार्टी नहीं हुई थी।

Rhea Chakraborty Must Come Forward In Probe Of Sushant Singh ...

सूत्रों के मुताबिक यह बात सही है कि उस बिल्डिंग का CCTV खराब था लेकिन 13 जून के पहले उसे ठीक करवा लिया गया था। 13 जून को CCTV कैमरे काम कर रहे थे, उस रात कोई भी बिल्डिंग में नहीं आया था। बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने रविवार को आरोप लगाया कि तिवारी को मुंबई में बीएमसी के अधिकारियों ने जबरदस्ती पृथक-वास में भेजा है।

सुशांत के अकाउंट से रिया की कंपनी ...

पांडेय ने कल ट्वीट किया, ‘‘आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी पुलिस टीम का नेतृत्व करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर पटना से आज मुंबई पहुंचे थे, लेकिन बीएमसी अधिकारियों ने रात 11 बजे उन्हें जबरदस्ती पृथक-वास में भेज दिया। उन्हें अनुरोध के बावजूद आईपीएस मैस में आवास मुहैया नहीं कराया गया और वह गोरेगांव के एक अतिथिगृह में रुके हैं।’’ सुशांत सिंह राजपूत (34) बांद्रा के अपने अपार्टमेंट में 14 जून को मृत मिले थे। तिवारी ने रविवार को मुंबई हवाईअड्डे पर पहुंचने के बाद संवाददाताओं से कहा कि वह अपनी टीम का नेतृत्व करने यहां आये हैं और मामले में सभी संभव कोणों से जांच करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मुंबई पुलिस अपनी शैली में मामले की जांच कर रही है और हम अपने तरीके से तफ्तीश करेंगे। जरूरत पड़ी तो हम बॉलीवुड हस्तियों के बयान भी दर्ज करेंगे जिनके बयान मुंबई पुलिस ने दर्ज किये हैं।’’
बिहार के DGP बोले- सबूत मिला तो रिया ...

एक सवाल के जवाब में तिवारी ने कहा कि यह कहना उचित नहीं है कि बिहार पुलिस के दल को मुंबई पुलिस से सहयोग नहीं मिल रहा। उन्होंने कहा, ‘‘जांच सही तरीके से आगे बढ़ रही है और हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। हमारा दल यहां मामले से जुड़े सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज हासिल करने आया है।’’ मुंबई पुलिस ने सुशांत राजपूत मामले में अब तक करीब 40 लोगों के बयान दर्ज किये हैं जिनमें अभिनेता के परिजन, रसोइया और फिल्म जगत के लोग भी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here